Valentine Day क्यों मनाते हैं? इस दिन की कहानी क्या है?

Valentine Day क्यों मनाते हैं? इस दिन की कहानी क्या है?

Valentine day kya hota ha
Valentine day kya hota hai

Valentine Day Kya Hota Hai?

क्या आप लोग जानना चाहते हैं कि Valentine Day क्यों मनाया जाता है और Valentine Day की कहानी क्या है, तो ये आपके लिए सही पोस्ट है. हमारे भारत देश को त्योहारों का देश माना जाता है क्योंकि यहाँ सभी लोग मिल कर एक साथ सभी त्योहारों को खुशी के साथ मनाते हैं जैसे होली, दिपावली, ईद/बकरीद, क्रिसमस आदि, जितने भी प्रकार के त्यौहार भारत में मनाये जाते हैं उन सभी त्योहारों के पीछे कोई न कोई एक सच्ची कहानी भी होती है जो कि इतिहास के पन्नो पर छपी है और वो सभी त्यौहार सदियों से चले आ रहे हैं जो एक रिवाज की तरह बन गये हैं जिसे सभी लोग अपने अपने तरीकों से मनाते हैं।

Valentine Day की कहानी

February में एक ऐसा दिन है जो Valentine Day के नाम से जाना जाता है, और इस दिन को सभी लोग प्यार का दिन कहते हैं और फ़रवरी महीने को प्यार का महिना भी कहा जाता है, लेकिन क्या कभी आप लोगों ने यह सोचा है कि 14 फ़रवरी को हम लोग valentine day क्यों मनाते हैं? इस दिन के पीछे एक कहानी छुपी है जिसके बारे में सायद आप लोगो को पता भी होगा यदि आपको नहीं पता है, तो आज मै आपको इसकी कहानी बताऊँगा की आखिर Valentine Day कब और क्यों मनाया जाता है और Valentine Day की पूरी history क्या है?



वैलेंटाइन डे क्यों मनाया जाता है, History of Valentine Day in Hindi


Valentine day एक व्यक्ति के नाम पर रखा गया है जिस जिस व्यक्ति नाम valentine था, इस प्यार के दिन की कहानी की शुरुआत प्यार से भरे हुए लम्हों की नही है, यह कहानी कृपालु/दयालु संत valentine और एक दुष्ट राजा के बिच हुए मुठभेड़ के बारे में है, इस दिन की शुरुआत होती है Rome की तीसरी सदी से जिस सदी में एक अत्याचारी राजा हुआ करता था जिसका नाम Claudius था.


Rome के राजा का ये मानना था की एक अकेला सिपाही एक शादी शुदा सिपाही के मुकाबले युद्ध के लिए एक उचित और ताकतवर सिपाही बन सकता है क्योंकि शादी शुदा सिपाही को हमेशा एक बात की चिंता लगी रहती है की उसके मर जाने या उसके न रहने के बाद उसके परिवार या घर वालों का क्या होगा और बस इसी चिंता से वो जंग/युद्ध में अपना पूरा ध्यान नहीं दे पाता है. यही सोच कर Claudius राजा ने ऐलान करवा दिया की उसके राज्य का कोई भी सिपाही किसी से शादी नहीं करेगा और जो भी कोई उसके इस आदेश का पालन नहीं करेगा तो उसे कड़ा से कड़ा दण्ड दिया जायेगा।

राजा के द्वारा किये गये इस फैसले से सभी सिपाही बहुत ही दुखी थे और उन सिपाहियों को यह भी मालूम था कि राजा ने हमारे लिए यह फैसला गलत किया है लेकिन राजा के डर से किसी भी सिपाही ने इस नियम का उलंघन करने की कोशिश नहीं करी और राजा के इस आदेश का पालन करने के लिए सिपाही मजबूर हो गए. लेकिन Rome के संत Valentine को राजा के द्वारा की गई सिपाहियों के लिए यह ये नाइंसाफी बिलकुल भी मंजूर नहीं थी इसलिए उन्होंने राजा से छुपकर युवा सिपाहियों की मदद करी और उनकी शादियाँ करवाने लगे.

जो भी सिपाही अपनी प्रेमिका से शादी करना चाहते थे वो valentine के पास मदद मांगने जाते थे और valentine उनकी मदद भी करते थे और उनकी शादी करवा देते थे. इसी तरह valentine ने बहुत से सिपाहियों की शादी करवा चुके थे.

लेकिन कहा गया है न कि सच ज्यादा दिन तक नहीं छुपता, किसी ना किसी दिन वो सबके सामने बाहार निकल कर आ ही जाता है, वही हुआ valentine के इस कार्य के बारे में भी Claudius राजा को किसी न किसी तरह पता चल गया, कि Valentine नौजवान सिपाहियों की शादी करवा रहे हैं, Valentine ने राजा के आदेश का पालन नहीं किया इसलिए राजा ने valentine को सजा-ए-मौत की सजा सुना दी गयी और Valentine को जेल के अन्दर डाल दिया गया।

जेल के अन्दर valentine अपनी मौत के दिन का इंतज़ार कर रहे थे और एक दिन उनके पास जेलर आया जिसका नाम Asterius था. Rome के लोगों का कहना था की valentine के पास एक दिव्य शक्ति थी जिसके इस्तेमाल से वो लोगो को रोगों से मुक्ति दिला सकता था.

Asterius की एक बेटी थी जो पूर्ण रूप से अंधी  थी और Asterius को valentine के पास बसी हुई जादुई ताकात के बारे में पता था इसलिए वो valentine के पास जाकर उनसे विन्नती करने लगा की उसकी बेटी की आँखों की रोशनी को अपने दिव्य शक्ति से ठीक कर दे. Valentine एक अच्छे दिल के इंसान थे और वो सभी की मदद करते थे इसलिए उन्होंने जेलर की भी मदद की और उनकी अंधी बेटी की आँखों को भी अपनी शक्ति से ठीक कर दिया.

उस दिन के बाद से Valentine और Asterius के बेटी के बिच गेहरी दोस्ती हो गयी थी और यह दोस्ती कब प्यार में बदल गयी उन दोनों को पता ही नहीं चला. Valentine की मौत होने वाली है यह सोचकर Asterius की बेटी को गहरा सदमा लग गया था. और आखिरकार वो दिन 14 फ़रवरी आ गया था जिस दिन Valentine को फाँसी लगने वाली थी. अपनी मौत से पहले valentine ने जेलर से एक कलम और कागज माँगा और उस कागज़ में Valentine ने जेलर की बेटी के लिए अलविदा सन्देश लिखा, पन्ने के आखिर में उसने “Your valentine” लिखा था, यह वो लफ्ज़ हैं जिसे आज भी लोग याद करते हैं.

Valentine ने लोगों की खुशी और उनके सुखमय जीवन के लिए अपना बलिदान कर दिया था। यही दिन 14 फरवरी था, इस दिन को पूरी दुनिया में सभी प्यार करने वाले लोग Valentine day के नाम से मनाते हैं और एक दुसरे के साथ प्यार बाँटते हैं. इसी दिन सभी प्यार करने वाल लोग अपने प्रेमी या प्रेमिका को फुल या तोहफा देकर अपने सच्चे प्यार का इजहार करते हैं.


Valentine Day किसके साथ मनाये?


यह बहुत ही अच्छा सवाल है की क्या हम Valentine केवल अपने Girlfriend या प्रेमी के साथ ही मना सकते हैं? 
नहीं!  क्योंकि आजकल ये केवल प्रेमी/प्रेमिका तक ही सिमित नहीं रह गया है, आजकल तो इसे दोस्तों, परिवार, भाई और बहन सभी के साथ भी मनाया जा रहा है. यह अपने प्यार को जाहिर करने का एक प्रतीक है. आज तो यह प्रेम, करुणा और मोहब्बत का दिन बन गया है. इसलिए इसे आप किसी के साथ भी मना सकते हैं. 

जैसे –
 1. अपने जीवन साथी के साथ प्यार को गहरा और मजबूत करने के लिए।
2. अपने lovers के साथ नए रिश्ते को अटूट बनाने के लिए।
3. अपने दोस्तों के साथ दोस्ती को बनाये रखने के लिए।
4. अपने परिवार के लोगों के साथ रिश्तों की डोर को मजबूत करने के लिए।
5. अपने pets के साथ अच्छा समय गुजरने के लिए।



Valentine Day Quotes in Hindi


दोस्त आये थे क़बर पे दीया जलाने के लिए;
 दोस्त आये थे क़बर पे दीया जलाने के लिए;
 रखा हुआ फूल भी ले गए कमीने,
 “वैलेंटाइन डे” मनाने के लिए।
वैलेंटाइन्स डे मुबारक हो!

तुम्हारे हाथों को चूम कर
छू के अपनी आँखों से आज मैं ने
जो आयतें पढ़ नहीं सका
उन के लम्स महसूस कर लिये हैं.
हैप्पी वैलेंटाइन डे!


नज़र से दिल में उतरना, बड़ी बात नहीं, 
जो रूह में उतरो, तो कोई बात बने |
 हैप्पी वैलेंटाइन डे!

खुद को खुद की खबर ना लगे; कोई अच्छा भी इस कदर ना लगे; आप को देखा है बस उस नज़र से; जिस नज़र से आप को नज़र ना लगे।” वैलेंटाइन्स डे की हार्दिक शुभकामनाएं!

यदि तुम सौ साल तक जीती हो तो मैं सौ साल में एक दिन कम जीना चाहूंगा ताकि मुझे कभी तुम्हारे बिना ना जीना पड़े।
हैप्पी वैलेंटाइन डे!

बस एक छोटी सी हाँ कर दो; हमारे नाम इस तरह सारा जहां कर दो; वो मोहब्बतें जो तुम्हारे दिल में हैं; उनको ज़ुबान पर लाओ और बयान कर दो!
वैलेंटाइन्स डे की शुभकामनाएं!

खुशबु आ रही है कहीं से ताजे गुलाब,
 की शायद खिडकी खुली रह गयी होगी उनके मकान की|
हैप्पी वैलेंटाइन डे!

इन आँखों को जब तेरा दीदार हो जाता है …. 
दिन कोई भी हो लेकिन त्यौहार हो जाता है?
Happy Valentines Day

वो गुलाब जो तुमने मुझे दिया था….वो प्यार जो तुमने मुझसे किया था…
वो याद जो तुमने मुझे दिए था….वो सफर जो हमने साथ तय किये था
नहीं भूल पाउगा में जब तक है जान….जब तक है जान…
वैलेंटाइन्स डे की शुभकामनाएं!


सभी नगमें साज़ में गाये नहीं जाते;
सभी लोग महफ़िल में बुलाये नहीं जाते;
कुछ पास रह कर भी याद नहीं आते;
कुछ दूर रहकर भी भुलाये नहीं जाते!
Happy Valentines Day

होंठों से प्यार के फ़साने नहीं आते; साहिल पे समंदर के मोती नहीं आते; ले लो अभी ज़िंदगी में दोस्ती का मज़ा; फिर लौट के हम जैसे दीवाने नहीं आते!” वैलेंटाइन्स डे की हार्दिक शुभकामनाएं! हैप्पी वैलेंटाइन डे!
वैलेंटाइन्स डे की शुभकामनाएं!

Valentine Week

यह थी, Valentine Day की History क्या है के बारे में मेरे द्वारा प्राप्त की गई कुछ जानकारी. Valentine day मनाने के 7 Days पहले से ही प्यार का सिलसिला शुरू हो जाता है और सभी प्रेमी युगल हर दिन अलग अलग तरीके से अपने प्यार का जश्न मनाते हैं.


निचे सातों दिन की लिस्ट दी गई है।
7 February – Rose Day
8 February – Propose Day
9 February – Chocolate Day
10 February – Teddy Day
11 February – Promise Day
12 February – Hug Day
13 February – Kiss Day
14 February – Valentine’s Day

मुझे उम्मीद है की आपको ये लेखनी पसंद आई होगी और अब तो आपको यह भी मालूम हो गया होगा की हम valentine day क्यों मनाते हैं.


यदि आपको यह पोस्ट Valentine day क्यों मनाया जाता हैं पसंद आया हो या कुछ सीखने को मिला हो तो कृपया इस पोस्ट को Social Media जैसे Facebook, Twitter और दुसरे Social media sites पर जरूर share कीजिये.

टिप्पणी पोस्ट करें

0 टिप्पणियां